बेवफाई कर भागे प्रेमी को ढूंढने ओडिशा से बिहार आ गई प्रेमिका, थाने में लव स्टोरी की हैप्पी इंडिंग

कहा गया है कि अगर कोई किसी से दिल से प्यार करता है तो हर कीमत पर अपने प्यार को पाने में कामयाब हो जाता है. ऐसा ही कुछ कर दिखाया है उड़ीसा की एक युवती ने. युवती पुष्पलता दास उर्फ पूजा जो ओडिशा के अभयचंदपुर थाना के जगतसिंहपुर की रहने वाली की मुलाकात तमिलनाडु में बांका के चंदन कुमार से हुई थी. दोनों एक ही जगह काम करते थे और दोनों के बीच प्यार हो गया था. प्यार का सिलसिला कई महीने तक चलने के बाद शादी के नाम पर युवक चंदन कुमार युवती को छोड़कर भाग खड़ा हुआ लेकिन अपने प्यार को बिछड़ता देख युवती ने भी हार नहीं मानी.

 

अपने प्रेमी चंदन को खोजते-खोजते वो बांका जिला के कटोरिया थाना पहुंची और अपने प्रेमी से मिलाने कि गुहार पुलिस से लगाने लगी. युवक के बारे में पता करने पर पता चला कि युवक बांका थाना के रानीबांध का रहने वाला है, नतीजतन बांका पुलिस से सहयोग लिया गया. इस बीच प्रेमिका के बांका पहुंचने की सूचना पर युवक घर से भागने की कोशिश की लेकिन तब तक प्रेम प्रसंग का मामला सुर्खियों में आ चुका था.

अब बारी थी क्षेत्र के सामाजिक कार्यकर्ताओं और स्थानीय पुलिस की जिन्होंने प्रेमी-जोड़े को मिलाने का कार्य किया. पहले युवक-युवती का कोर्ट में रजिस्टर्ड शादी होने के बाद थाना परिसर स्थित मंदिर में दोनो परिवार और पुलिस और सामाजिक कार्यकर्ता की मौजूदगी में बिना दहेज कि शादी हुई. इस पुनीत कार्य को करने वालों में ककवारा पंचायत के मुखिया पति सुनील यादव, दिलीप झा और बांका थनाध्यक्ष शंभु यादव की सहभागिता रही.

 

ओडिशा की पुष्पलता बांका के चन्दन मंदिर में सात फेरे लेकर दुल्हनिया बन चंदन के घर जा चुकी है.
इस बाबत बांका थानाध्यक्ष शंभु यादव ने बताया कि दोनों बालिग प्रेमी थे और बिछड़ने के बाद युवती और युवक के परिजनों की रजामंदी से दोनों कि शादी क्षेत्र के सामाजिक कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में होने की बात कही.

Leave a Comment