IPL 2022: CSK की हार की हैट्रिक के बाद फूटा कप्तान जडेजा का गुस्सा, कहा- ये खिलाड़ी हो रहा फ्लॉप

आईपीएल 2022 के 11वें मैच में पंजाब किंग्स के खिलाफ सीएसके को 54 रन से हार का सामना करना पड़ा था। लीग शुरू होने के बाद सीएसके की यह लगातार तीसरी हार है। सीएसके ने आईपीएल के किसी भी सीजन में इतना खराब प्रदर्शन कभी नहीं किया है। कप्तान रवींद्र जडेजा की टीम हर मौके पर फ्लॉप रही है। इस मैच की हार के बाद जडेजा खुद भी काफी गुस्से में हैं और उन्होंने मैच के बाद बड़ा बयान भी दिया.

 

जडेजा का फूटा गुस्सा

चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान रवींद्र जडेजा ने कहा कि रविवार को यहां इंडियन सुपर लीग मैच में पंजाब किंग्स के खिलाफ हार के बाद उनकी टीम को जोरदार वापसी करनी होगी। पंजाब किंग्स ने लियाम लिविंगस्टोन के ऑलराउंड प्रदर्शन से चेन्नई सुपर किंग्स (CSK ) को हराया। यह सीएसके की लगातार तीसरी हार थी। सीएसके के कप्तान रवींद्र जडेजा ने 54 रन की हार के बाद कहा, ‘मुझे लगता है कि हमने पावरप्ले में काफी विकेट गंवाए और हम गति नहीं पा सके। हमें मजबूती से वापसी करनी होगी।

गायकवाड़ लगातार हो रहे फ्लॉप

पिछले चरण के सबसे ज्यादा रन जुटाने वाले ऋतुराज गायकवाड़ अभी तक बल्लेबाजी में योगदान नहीं कर पाए हैं, इस पर जडेजा ने कहा, ‘हमें गायकवाड़ का मनोबल बढ़ाना होगा, हम सभी जानते हैं कि वह काफी अच्छा खिलाड़ी है. मुझे भरोसा है कि वह अच्छा करेगा.’ शिवम दूबे ने फिर अर्धशतकीय पारी खेली लेकिन टीम को जीत के करीब नहीं पहुंचा सके. जडेजा ने कहा, ‘दूबे अच्छी बल्लेबाजी कर रहा है और मुझे लगता है कि उसे सकारात्मक रखना अहम होगा. हम अपना सर्वश्रेष्ठ कर मजबूत वापसी करने की कोशिश करेंगे.’

 

गायकवाड़ लगातार हो रहे फ्लॉप

जिस पर पिछले चरण के सबसे अधिक रन बनाने वाले ऋतुराज गायकवाड़ अभी तक बल्लेबाजी में योगदान नहीं दे पाए हैं, जडेजा ने कहा, ‘हमें गायकवाड़ का मनोबल बढ़ाना है, हम सभी जानते हैं कि वह बहुत अच्छे खिलाड़ी हैं। मुझे यकीन है कि वह अच्छा करेंगे।’ शिवम दुबे ने फिर अर्धशतक लगाया लेकिन टीम को जीत के करीब नहीं ला सके. जडेजा ने कहा, ‘दुबे अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं और मुझे लगता है कि उन्हें सकारात्मक रखना जरूरी होगा। हम मजबूत वापसी करने की पूरी कोशिश करेंगे।

 

मयंक ने की खिलाड़ियों की तारीफ

पंजाब किंग्स के कप्तान मयंक अग्रवाल ने कहा, ‘हमें लगा कि स्कोर में पांच-सात रन बचे थे, हालांकि 180 रनों का पीछा करना आसान नहीं था. नई गेंद से हमने जिस तरह से गेंदबाजी की उससे मैं खुश हूं। अग्रवाल ने कहा, ‘मैंने लिविंगस्टोन से कुछ नहीं कहा। जब वह बल्लेबाजी करते हैं तो सब देख रहे होते हैं।

वैभव अरोड़ा ने भी जितेश शर्मा की तरह अच्छा डेब्यू किया और दो विकेट लिए। अग्रवाल ने कहा, ‘वह दो साल से हमारे साथ हैं, हमने उनका टैलेंट देखा। जितेश शर्मा की बात करें तो अनिल भाई ने उन्हें मुंबई इंडियंस में देखा था। उसने अच्छा प्रदर्शन किया, वह एक महान विकेटकीपर है।

Leave a Comment