खुशखबरी: फिर शुरू होगी भारत और नेपाल के बीच रेल सेवा, PM मोदी और देउवा करेंगे उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की पहल पर अब भारत और नेपाल (India- Nepal) के बीच शनिवार से रेल सेवा (Rail Service) शुरू जा रही है. यह ट्रेन (Train) बिहार के जयनगर से नेपाल के कुर्था (Jaynagar to Kurtha) तक ब्राड गेज लाइन पर चलने वाली है. कुर्था स्टेशन नेपाल के धनुषा जिले में है, जो जनकपुर जोन में आता है. यानी अब सीता की जन्मस्थली तक रेलवे की सेवा शुरू होने वाली है. इससे पहले ही यहां अंग्रेजों के जमाने में मीटर गेज रेड लाइन हुआ करती थी, जिसे साल 2000 में खत्म कर दिया गया था. उसके बाद से भारत और नेपाल के बीच में कोई रेल संपर्क नहीं था.

 

बता दें कि इस रेल लाइन के उद्घाटन के लिए ही नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउवा भारत आए हुए हैं. सूत्रों के मुताबिक शनिवार को नवरात्र के पहले दिन भारत और नेपाल के प्रधानमंत्री संयुक्त रूप से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस रेल लाइन का उद्घाटन करेंगे. इसके लिए भारत ने नेपाल को 2 डीएमयू ट्रेन अभी तोहफे में दी हैं. इसके अलावा इस रेल लाइन और ट्रेन के मेंटेनेंस का काम कोंकण रेलवे को दिया गया है.

भारत-नेपाल के बीच बहाल होगी रेल सेवा
पहली बार दोनों देशों की सीमा के आर-पार मुसाफिर सीधे ट्रेन से यात्रा कर पाएंगे. यह रेल यात्रा करीब 33 किलोमीटर की होगी. इसके लिए बिहार के जयनगर में एक नया स्टेशन भी तैयार किया गया है. इस ट्रेन में यात्रा करने के लिए मुसाफिरों को वीजा या पासपोर्ट की जरूरत नहीं पड़ेगी.

 

भारत और नेपाल में ये है बड़ी तैयारी
इस रेल सेवा को शुरू करने के लिए भारत और नेपाल में बड़ी तैयारी की गई हैं. इस रेल रूट पर यात्री ट्रेन और माल गाड़ी दोनों चला करेंगी. वहीं, इस रेल रूट को नेपाल के बर्दीबास तक ले जाने के लिए नई पटरी बिछाने काम भी चल रहा है. इसमें 3 किलोमीटर रेल लाइन बिहार में जबकि करीब 66 किलोमीटर रेल लाइन नेपाल की सीमा में होगी. उम्मीद की जा रही है कि इस लाइन के विस्तार का काम भी जल्दी पूरा कर लिया जाएगा.

 

भारत की ओर से नेपाल में भारतीय रेल का विस्तार जहां भारत नेपाल संबंधों को और मजबूत बनाएगा. वहीं, यह नेपाल में चीन की दखल को भी कम करेगा. चीन लगातार नेपाल में चीनी रेलवे के प्रवेश और विस्तार की कोशिश में लगा है.

Leave a Comment