Chaitra Navratri 2022: चैत्र नवरात्रि में जरूर करें ये काम, आपके लिए बेहद शुभ साबित होगा पर्व

Chaitra Navratri 2022: वैसे तो भारत में त्योहारों की फेहरिस्त खासी लम्बी है. मगर, नए साल के दस्तक देते ही देश में त्योहारों की धूम शुरू हो जाती है. मकर संक्रांति से लेकर वसंत पंचमी, महाशिवरात्री के बाद कई लोग बेहद बेसब्री से होली का इंतजार करते हैं. वहीं होली के बाद नवरात्रि (Navratri) के रूप में समूचा देश नौ दिनों का त्योहार काफी हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है. इस साल चैत्र नवरात्रि का आगाज 2 अप्रैल दिन शनिवार यानी आज से हो चुका है. जिसका समापन 11 अप्रैल को सोमवार के दिन होगा.

हिन्दू धर्म में नवरात्रि का काफी महत्व है. हिन्दू पंचाग के अनुसार चैत्र महीने के शुक्ल पक्ष की पहली तिथि से शुरू होने वाले नवरात्रि से हिन्दू नववर्ष का आगाज माना जाता है. इस दौरान देश के हर कोने में दुर्गा पूजा बेहद धूम-धाम से मनाई जाती है. कई लोग इस शुभ अवसर पर नौ दिनों का व्रत रखकर मां दुर्गा की अराधना करते हैं. कुछ आम बातों को ध्यान में रखकर इस पर्व को और भी शुभ बनाया जा सकता है

घर की सफाई करना न भूलें

नवरात्रि को पुराणों में पवित्र पर्व का स्थान प्राप्त है. पौराणिक मान्यताओं के अनुसार नवरात्रि के नौ दिनों तक माता दुर्गा घर में वास करती हैं. इसलिए नवरात्रि में घर के सभी कोनों की अच्छी तरह से साफ-सफाई करना न भूलें. घर साफ रखने से न सिर्फ मां दुर्गा घर में स्वंय विराजमान रहती हैं बल्कि घर में लक्ष्मी का वास भी बना रहता है.

 

पूजा स्थल को करें शुद्ध

नवरात्रि में घर की सफाई के साथ-साथ मंदिर को भी साफ रखना बेहद जरूरी होता है. खासकर घटस्थापना वाली जगह को अच्छे से साफ करें. वहां थोड़ा सा गंगाजल छिड़क दें. वहीं नौ दिनों तक पूजा स्थल की पवित्रता का खास ख्याल रखें. साथ ही नवरात्रि की पूजा सफल बनाने के लिए सभी अपवित्र चीजों को मंदिर से दूर रखने की कोशिश करें और रोज गंगाजल से ही मंदिर की सफाई करें.

 

स्वास्तिक बनाना न भूलें

सदियों से हिन्दू धर्म में शुभ कामों की शुरुआत स्वास्तिक बनाने से होती है. पौराणिक ग्रंथों में स्वास्तिक का खास महत्व रहा है. ऐसे में स्वास्तिक बनाना आपके लिए काफी शुभ हो सकता है. इसलिए नवरात्रि में घर के मुख्य द्वार और मंदिर में पूजा स्थल पर स्वास्तिक का निशान जरूर बनाएं. इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है साथ ही घर में सुख-समृद्धि आती है.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Bihar News – WBNRC.IN इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Leave a Comment